आय (Income) क्या है अमीर कैसे बने ?

स्वागत है आपका हमारी Website Mybestindia में दोस्तों आज हम आपको ऐसी जानकारी बताने वाले है, आपको जानना बहुत जरूरी है, खासकर यदि आप ज्यादा पैसा कमाने के बारे में सोच रहे है तो आपको किस प्रकार की आय यानी कि Income करना होगा। ये भी आपको बताया जाएगा।
What-is-income

दोस्तों क्या आप जानते है, की ज्यादा पैसा कमाना किस बात पर निर्भर करता है, हम सब लोग समय बेचकर पैसा कमाते है। ज़्यादा पैसा कमाना इस बात पर निर्भर करता है। कि आप अपने समय का कितना गुणा (Multiply) करते है

Read More Article-

आय क्या है What Is income ?

Income हिंदी भाषा मे बोले तो आमदनी या आय यानी कि हमारा कमाया हुआ पैसा, हम income 2 तरह से कर सकते है। जो नीचे आपकक बताया जाएगा।

आय के प्रकार (Type Of Income) ?

आय यानी कि इनकम दो तरह की होती है। पहली लीनियर आय यानी कि कड़ी मेहनत की कमाई। और दूसरी लेवेरज आय यानी कि चतुराई से कमाई गयी आय। आय के प्रकार को समझने के लिए आपको नीचे दिए गए जानकारी को पूरा पड़ना होगा।

अमीर कैसे बनें

दोस्तों आज हम आपको इस जानकारी में एक उदाहरण को समझाने की कोशिस करेंगे, जिसमे आपको आय के प्रकार (लीनियर और लेवेरज आय) व अमीर किस प्रकार आप बन सकते है, उसकी विस्तरित जानकारी बताई जाएगी जिसे आपको पूरा ध्यान पूर्वक पड़ना है।
उदाहरण (Example)- उदाहरण के तौर पर में आपको दो लोगो से मिलवाता हूँ। एक है राम, राम एक साधारण आदमी है। एक छोटे से LIG Flat अपनी पत्नी व दो बच्चों के साथ रहता है। वह Mumbai incorporation में नौकरी करता है। और इनकी तनख्वाह 10 हजार रुपये है। तो राम लीनियर आय कमा रहे है। क्योंकि वह प्रतिदिन अपने 24 घंटो में से 8 घंटे Mumbai Corporation में बेच रहे है।
अब मैं आपको मिलवाता हु स्याम से , स्याम Mumbai Incorporation का मालिक है। उनका मुम्बई में जुहू तट (Beach) यानी कि समुद्र के किनारे पर 5000 गज में एक शानदार बंगला है। उस बंगले में Swiming Pool है। Gym है, और स्याम के पर 5-6 गाड़ियां भी है। और उनकी Company में Mr.Ram जैसे लगभग 2000 लोग नौकरी करते है।
Amir-kaise-bane

अब सवाल ये उठता है कि क्या फर्क है, Mr.Syam और Mr.Ram में राम के पास भी वही दो आंखे, दो हाथ और दो पैर है। जो स्याम के पास भी है। फिर भी Mr.Syam इतनी शान-शौकत से कैसे रहते है। जबकि राम इतनी किल्लत भारी जिंदगी जी रहे है। इस बात का उत्तर ढूढंने के लिए में आपको Mr.Syam के समय की गढ़ना (Calculation) करके दिखता हूँ। Mr.Ram की तनख्वाह 10000 रुपये है। वे रोज 8 घंटे काम करते है। हर रविवार उनका अवकाश होता है। यानी कि वह महीने में लगभग 25 दिन काम करते है। इस हिसाब से वे महीने में 25×8=200 घंटे Mr.Syam के लिए काम करते है। इन 200 घंटो के बदले में स्याम उन्हें 10000 रुपये देते है यानी कि इस हिसाब से राम के एक घण्टे की कीमत 10000/200=50 रुपये होती है।
अब अगर मिस्टर राम 10000 से ज्यादा पैसा कमाना चाहते है तो उनके पास क्या विकल्प है।मेरे ख्याल से उनके पास सिर्फ 2 विकल्प है। या तो वो अतिरिक्त समय मे एक और अंशकालिक नौकरी (Part Time Job) करें या फिर वो कोई Business करें।
चलिए पहले अतिरिक्त अंशकालिक नौकरी (Part Time job) के बारे में बात करते है। मिस्टर राम पहले से ही 8 घंटे मिस्टर स्याम के यहाँ Job करते है। आपको क्या लगता है कि वो और किते घंटे काम कर सकते है। ज़्यादा से ज्यादा 4 घंटे। शायद इससे ज्यादा तो नही कर पाएंगे। और 50 रुपये के हिसाब से चार घंटे के हुए 200 रुपये पूरे महीने में 200×50=500 रुपये कुल मिलाकर राम की आय 15000, और 15000 के स्तर के बाद राम की आय को पूर्णविराम लग जायेगा। वह इससे ज्यादा पैसा नही कमा सकते है। क्योंकि उनके पास इससे ज्यादा वक्त बेचने के लिए नही है।
निष्कर्ष ये है कि Mr.Ram लीनियर आय कमा रहे है। और लीनियर आय से अमीर नही बना जा सकता है। और लीनियर आय में एक सीमा के बाद पूर्णविराम लग जाता है।
आईये अब मिस्टर स्याम से मिलते है।  Mr.Syam, Mr.Ram को 10000 रुपये तनख्वाह देते है। मान लीजिए वह Mr.Ram को 10000 रुपये तनख्वाह इसलिए देते है। क्योंकि Mr.Ram काम करके उनका 20000 का फायदा करते है। इसका मतलब ये हुआ कि अगर मिस्टर राम 8 घंटे काम करते है। तो उसमें से 4 घंटे वो अपने लिए काम करते है। और 4 घंटे मिस्टर स्याम लिए काम करते है। मिस्टर राम जैसे 2000 लोव मिस्टर स्याम के लिए काम करते है। अगर हर आदमी राम की तरह रोज 4 घंटे Part Time करते है तो 2000×4=8000 घंटे काम होता है।
यानी कि Mr. Syam ने अपनी कंपनी में 2000 लोगों की मदत से अपने समय का गुणा किया है जहाँ Mr.Ram 1 दिन का 50×8=200 रुपये कमाते है। जबकि मिस्टर स्याम 1 दिन में 8000×50=4 लाख रुपये कमाते है। इसीलिए मिस्टर स्याम बड़े बंगले में रहते है। और बड़ी गाड़ियों में घूमते है। और मिस्टर राम को अपने बीबी बच्चों को घुमाने के लिए दस बार अपनी जेब मे झांकना पड़ता है।
निष्कर्ष (Conclusion)- निष्कर्ष यह है कि ज्यादा पैसा कमाने के लिए किसी तरह से आपके समय का गुडन होना चाहिए अगर Mr.Syam की तरह आपके लिए भी बहुत सारे लोग आपके कम्पनी में काम करे जो आपके समय का गुडन कर सकें, तो आप भी बहुत सारा पैसा कमा सकते है।
विकल्प (Option)- अब आप ये सोच रहे होंगे कि मिस्टर स्याम के पास तो बहुत सारा पैसा है। और बहुत बड़ी फैक्ट्री भी है। वह 2000 लोगो को नौकरी पर रखकर अपने समय का गुडन भी कर सकते है। लेकिन हमारे पास यह सब कहा है।
बिल्कुल ठीक सोच रहे है आप आज देश की ज्यादातर जनसंख्या लीनियर आय पर काम कर रही है।ज्यादातर लोग या तो नौकरी कर रहे है या दुकानदार है। क्योंकि लीनियर आय में आप सीमित समय बेच सकते है। इसीलिए आपकी आय भी सीमित होती है।और इसीलिए देश की ज्यादातर जनसंख्या अमीर नही है। बड़ी फैक्ट्री छोड़ो अगर आपको एक छोटी फैक्ट्री लगानी हो जहाँ सिर्फ 15 से 20 लोग आपके लिए काम कर सके तो उसके लिए भी लाखों रुपये निवेश करते पड़ते है। पहली बात ज्यादातर लोगों के पास निवेश के लिए इतना पैसा नही होता, दूसरा अगर पैसा होता भी है तो नए काम की जानकारी व अनुभव की कमी की वजह से , वे डरते है। देश की ज्यादातर जनसंख्या को कैसे Business चाहिए। ऐसा बिज़नेस होना चाहिए जहाँ निवेश कम हो, और समय का गुणा किया जा सके।

Post a Comment

0 Comments