ओमिक्रोन से क्या देश में फिर से लग सकता है लॉकडॉन

कोरोना का नया वेरिएंट आ रहा है जिसका नाम ओमिक्रोन है नई दिल्ली से 8000 किलोमीटर दूर साउथ अफ्रीका इस वक्त हाई अलर्ट पर है। दक्षिण अफ्रीका में अब तक 29,55,328 से ज्यादा करोना केस रिकॉर्ड हुए हैं। जिनमें 89,783 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 19,938 से ज्यादा एक्टिव केस है।

ओमिक्रोन-वायरस

लेकिन 24 नवंबर को साउथ अफ्रीका में ऐसी खबर आई, जिसने पहले डब्ल्यूएचओ को भी चौकाया, उसके बाद पूरी दुनिया को डराया क्योंकि दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का ऐसा वेरिएंट सामने आए जो सबसे खतरनाक और सबसे तेजी से फैलने वाला वायरस माना जा रहा है। जिस पर वैक्सीन भी कम असरदार है। डब्ल्यूएचओ ने इस वेरिएंट को “वेरिएंट आफ कंसर्न” यानी ऐसा वेरिएंट जिसको लेकर चिंता करनी चाहिए।

ओमिक्रोन वायरस के बारे में जान लेते हैं।

दुनिया में साल 2020 में आए कोरोनावायरस 2021 में आए डेल्टा वायरस और अब एक नया वायरस ओमिक्रोन फैलने लगा है जो चीन से पहला कोरोनावायरस आया था उसके अब तक 50 म्यूटेशन हो चुके हैं। देश में आ रहे इस नए वर्ष में 30 म्यूटेशंस मिले हैं। जबकि साल 2021 में आए डेल्टा वेरिएंट में 15 इमिटेशन मिले थे। ओमीक्रोन वैरीअंट डेल्टा वैरीअंट से से ज्यादा तेजी से फैल सकता है। इसमें मेंब्रेन प्रोटीन NSP6 गायब है जो इसे और संक्रामक बना सकता है। हालांकि ओमिक्रोन के लक्षण में कोई बदलाव नहीं है।

2020 में दुनिया ने पहली बार कोरोना का प्रकोप देखा था 2021 में भारत में पूरी दुनिया में डेल्टा वायरस का प्रकोप देखा, अब ओमिक्रोन आ रहा है ओमीक्रोन वैरीअंट की साउथ अफ्रीका, हॉन्ग कोंग, बेल्जियम, इजराइल नामीबिया, जिंबाब्वे, लेसोथो और इजराइल में कोरोना के इस नए वेरिएंट हो सकते हैं इसीलिए कुछ देशों में आवागमन को भी रोक दिया गया है।

सभी देश इस करोना के नए वेरिएंट को अपने देश से दूर रखने में लगे है, सबसे ज्यादा पैनिक स्थिति साउथ अफ्रीका में है जहां पर लोग लॉकडाउन और इंटरनेशनल फ्लाइट बंद होने के कारण कहीं आ जा नहीं पा रहे हैं।

दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना से मौत अमेरिका में हुई है। इस वक्त अमेरिका में 94,11,096 एक्टिव केस है। और अमेरिका में 59% लोगों को कोरोना की दूसरी डोस भी लग चुकी है। और दूसरे नंबर पर है ब्राजील जहां पर सबसे ज्यादा मौत हुई है कोरोना के कारण वहां के राष्ट्रपति ने अभी से ही सभी को सावधान होने के लिए शुरू कर दिया है। कोरोना के नए वेरिएंट का साइंटिफिक नाम B.1.1.529 है। जिसे डब्ल्यूएचओ ने ओमीक्रोन नाम दिया है।

ओमीक्रोन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश

  • कोरोना के वक्त दवाइयों की कमी ना हो पाए
  • जहां ज्यादा केस है वहां पर निगरानी और कंटेंटमेंट जैसी सख्ती रखी जाए
  • ओमीक्रोन वेरिएंट के बारे में रिसर्च करने के लिए बोला गया
  • इसके अलावा नए वेरिएंट से जनता को जागरूक करें।
  • इंटरनेशनल फ्लाइट की योजना की समीक्षा की जाए।
  • वैक्सीनेशन को तेजी से बढ़ाना होगा
  • कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज की कवरेज बढ़ाने पर फोकस किया जाए
  • मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सही से किया जाए

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन की खबरों को लेकर केंद्र सरकार ने नई गाइडलाइन आज से लागू कर दिए हैं सरकार की पूरी कोशिश कर रही है कि यह वैरीअंट भारत में ना आने पाए इसके लिए राजीव को कड़ी निगरानी और जांच में तेजी करने के निर्देश दिए गए हैं कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन पर दोपहर 2:00 बजे सभा में चर्चा हुई।

ओमीक्रोन से बचने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट की नई गाइडलाइन

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के खतरे से राजधानी दिल्ली के एयरपोर्ट पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है दिल्ली सरकार ने एयरपोर्ट के लिए नई गाइडलाइन जारी किया है जिसके मुताबिक।

  • एयरपोर्ट पर हाई रिस्क देशों से आने वाले की जांच की जाएगी जांच।
  • रिपोर्ट नेगेटिव आने पर भी 7 दिन तक का क्यूरेंटिन रखना होगा और आठवें दिन दोबारा टेस्ट कराना होगा।
  • जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर सैंपल जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जाएगा।
  • जांच में आने वाला खर्च यात्री को खुद भरना होगा।
  • गैर हाई रिस्क वाले देशों से आने वाले यात्री की रेंडम टेस्टिंग की जाएगी।
  • 5 साल से कम उम्र के बच्चों को टेस्टिंग में छूट मिलेगी

ओमिक्रोन पर मुंबई एयरपोर्ट की नई गाइडलाइन

ओमिक्रोन वैरीअंट के खतरे को देखते हुए मुंबई के छत्रपति शिवाजी एयरपोर्ट पर पर भी नए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। जिसके मुताबिक

  • हाई रिस्क देशों से आने वाले यात्री को दूसरे यात्रियों से अलग रखा जाएगा
  • यात्रियों की जांच के लिए 48 काउंटरों पर rt-pcr की सुविधा होगी।
  • विदेश से आने वाले यात्रियों की जांच के लिए 3 नए लैब बनाए गए हैं।
  • इसके अलावा एयरपोर्ट पर जांच के लिए 30 पीसीआर मशीनें भी लगाई जाएंगी।
  • यात्रियों को केवल जांच के क्यूआर स्कैन करके ऑनलाइन बुकिंग कर सकते हैं।
  • जांच रिपोर्ट के लिए इंतजार करने वाले लोग अलग बैठेंगे।

Leave a Reply