केसीसी लोन कैसे मिलता है किसान क्रेडिट कार्ड पर ब्याज कब कैसे लगता है

आज की जानकारी में हम बात करने वाला है, केसीसी लोन कैसे ले, किसान क्रेडिट कार्ड किस प्रकार से काम करता है किसान क्रेडिट कार्ड क्या है और सबसे महत्वपूर्ण बात किसान क्रेडिट कार्ड के ऊपर जो ब्याज दर लगता है वह किस प्रकार से लगता है और कितना लगता है।

केसीसी-लोन-और-ब्याज-दर-की-पूरी-जानकारी

पिछली जानकारी में हमने किसान क्रेडिट कार्ड के आवेदन के बारे में बताया यदि आपको नहीं पता किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करते हैं तो हमारी पिछले जानकारी को आप पढ़ सकते हैं।

केसीसी लोन कैसे लें और ब्याज की जानकारी

केसीसी क्या है

केसीसी का पूरा नाम है किसान क्रेडिट कार्ड किसान क्रेडिट कार्ड बैंक के द्वारा बहुत ही कम ब्याज पर सरकार लोन देती है यानी कि ऋण उपलब्ध करते हैं और यह रेड आपके जमीन के ऊपर दिया जाता है।

केसीसी में किस प्रकार के लोन मिलते हैं

केसीसी के तहत आपको दो प्रकार के लोन मिलते हैं

  1. फसली ऋण– फसली ऋण के तहत आपको ₹3 लाख तक का लोन आपको किसी के ऊपर मिलता है।
  2. मियांती ऋण– केसीसी के ऊपर मिलने वाला दूसरा ऋण होता है मियां तेरी इसके अंतर्गत आपको ₹3 लाख से अधिक लोन बैंक द्वारा मिल सकता है।

यह दोनों केसीसी लोन के तहत आते हैं किसान क्रेडिट कार्ड आप किसी भी प्राइवेट या सरकारी बैंक के द्वारा बनवा सकते हैं कोई भी छोटा या बड़ा किसान इसका लाभ ले सकता है।

केसीसी आवेदन फीस

किसी आवेदन करने के लिए कोई फीस नहीं लगती है पहले सरकार देना फीस लगाया गया था लेकिन अब किसी सी कार्ड बनवाने के लिए कोई भी पीस नहीं लगती किसान भाई से फ्री में बनवा सकते हैं।

केसीसी बनवाने के लिए डॉक्यूमेंट

पहले केसीसी बनवाने के लिए काफी ज्यादा डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती थी बहुत से डॉक्यूमेंट लगते थे। लेकिन अब केसीसी बनवाने के लिए आपको

  1. जमीन के मालिकाना हक का रिकॉर्ड
  2. निवास प्रमाण पत्र
  3. हलफनामा (दूसरे बैंक से लोन नहीं लिया है)

नए बैंक अकाउंट के लिए पैन कार्ड भी चाहिए।

केसीसी लोन पर कितना ब्याज और कब लगता है

केसीसी के ऊपर कितना ब्याज और कब लगता है चलिए इसके बारे में जान लेते हैं।

  • यदि आप अपने केसीसी पर ₹3 लाख तक का लोन लेते हैं तो आपको साथ प्रतिशत का ब्याज लगता है यदि आप इसमें अपने ब्याज को समय पर चुका देते हैं तो आपको 3% की स्ट्रा सब्सिडी के द्वारा मिल जाती है यानी कि आपको 7% ब्याज में 3% की सब्सिडी मिल जाती है तो आपको केवल 4% ब्याज का ही भुगतान करना होता है।
  • 6 महीने के अंदर आपको एक बार अपने फसल के ऊपर ब्याज का भुगतान अपने बैंक में करना होता है यदि आप समय पर अपने केसीसी का हिसाब किताब करते हैं तो आपको केवल 4% का ब्याज देना होता है यह आप को ध्यान में रखना है।
  • यदि आप तीन लाख से अधिक मियती ऋण अपने केसीसी के ऊपर लेते हैं तो आपको 7% का ब्याज आपको देना पड़ता है। यहां पर सरकार के द्वारा दी जाने वाली 3% की सब्सिडी आपको नहीं मिलती यहां पर आपको 7% ब्याज देना पड़ता है
  • और यदि आप मियाती ऋण समय पर भुगतान नहीं करते हैं तो 9% और 12% तक का ब्याज दर भुगतान करना पड़ता है।

यानी कि यदि आप ₹3 लाख से अधिक लोन लेते हैं तो आपको 7% व्यास देना होता है और यदि समय पर भुगतान नहीं करते हैं तो आपको 9 से 12% काव्या देना पड़ सकता है।

केसीसी में 1 एकड़ पर कितना ऋण मिलता है

यदि हम ऋण की बात करें तो ट्रेन की राशि आप की भूमि के प्रकार यानी कि आप की भूमि किस प्रकार है और उसके अंदर आप कौन सी फसल उगाते हैं उत्पाद कितना होता है इसमें आपकी आमदनी कितनी बैठती है इसके अलावा यह आपके बैंक पर डिपेंड करती है यानी कि अलग-अलग बैंक अलग-अलग राशि कम ज्यादा दे सकते हैं।

इस जानकारी में आपको किसान क्रेडिट कार्ड ब्याज दर केसीसी लोन के बारे में समझ में आ गई हो यदि आपको कोई भी बात समझ में नहीं आ रही है तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं।

Leave a Reply