पीठ पर दाने/मुंहासे का कारण और इलाज कैसे करें है ?

क्या आप जानते हैं आपका चेहरा ही नहीं एक मात्र ऐसी जगह है जहां पर दाने यानी कि मुंहासे निकलते हैं। मुंहासे आपके पीठ पर भी हो सकते हैं। आपके सिर के पिछले हिस्से पीठ में भी बालों के रोम और सेबम ग्रंथियां होती है जो चेहरे के बाद पीठ पर अधिक प्रभावित करती है, जिसमें ब्लैकहेड्स से लेकर नोड्यूल तक किसी प्रकार के पिंपल शामिल होते हैं। यह उन लोगों में आम होते हैं जिनके चेहरे पर मुंहासे होते हैं इस लेख में आइए समझते हैं कि पीठ पर निकले दाने यानी कि मुंहासे का इलाज क्या है पीठ पर निकले हुए दाने को ठीक कैसे कर सकते हैं।

पीठ पर दाने/मुंहासे का कारण और इलाज कैसे करें है ?

पीठ पर दाने क्यों निकलते हैं पीठ पर दाने/मुंहासे होने के कारण

जैसा कि नाम से पता चलता है पीठ पर दाने यानी की मुहासे। इसका अर्थ है आपके शरीर की पिछले हिस्से में लाखों रोम छिद्र होते हैं जिसमें लाखों सिबम ग्रंथियां होती हैं जो जो सिबेम का श्राव करते हैं यह रोम छिद्र, त्वचा के छिद्र, मृत त्वचा, पसीने और बैक्टीरिया में बसने वाले सिबेम से भर जाते हैं तो इससे आपकी पीठ पर सूजन और मुंहासे निकल आते हैं।

पीठ के ऊपरी हिस्से में बड़ी संख्या में पसीने की ग्रंथियां होती हैं लेकिन वायु परिसंचरण की कमी होती है क्योंकि यह हमारे कपड़ों से डक जाता है इसीलिए पेट के निचले हिस्से की तुलना में त्वचा के छिद्रों में पसीने और सेबम के निर्माण के कारण ऊपरी पीठ के क्षेत्र में मुंहासे के होने का खतरा अधिक होता है।

आयुर्वेद के अनुसार तीन में से किसी एक में संतुलन वात पित्त और कफ त्वचा रोग का कारण बन सकते हैं

  1. पीठ पर मुंहासे मुख्य रूप से आपके शरीर में बढ़े हुए पित्त और कफ दोषों के कारण होते हैं।
  2. अनुवांशिकी तनाव ग्लूटेन और कार्बोहाइड्रेट युक्त खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन जैसे कि ब्रेड पास्ता चीनी आलू के चिप्स डेयरी उत्पाद शीतल पेय और अन्य जंक फूड किशोरावस्था मासिक धर्म या गर्भावस्था के दौरान होने वाले हार्मोन उतार-चढ़ाव और असंतुलन के कारण भी दाने निकलते हैं।
  3. आपके कसरत के दौरान जोरदार गतिविधिया तंग और सिंथेटिक कपड़े पहनने के कारण अत्यधिक पसीना होने पर भी आपके पीठ पर दाने निकल सकते हैं
  4. अच्छी तरह से अपनी पीठ की साफ-सफाई या नहाते समय बीच के क्षेत्र की अच्छी सफाई ना करने के कारण भी पीठ पर दाने निकल सकते हैं।
  5. अशुद्ध तोलिया कपड़ा या जिम उपकरण का उपयोग करना जो आपके पेट के सीधे संपर्क में आते हैं इससे भी आपके पेट पर मुहासे हो सकते हैं

पीठ के दाने/मुहासे कैसे दिखते हैं

बीच में दाने ब्लैकहेड्स के रूप में हो सकते हैं जो खुले कॉमोडिन के रूप में उभर या काले रंग की तरह दिखाई देते हैं और आपके पीठ पर बने वाइटहेड्स छोटे और बंद सफेद रंग के घुंघरू की तरह भी दिखते हैं आपकी पीठ पर बने पिंपल, लाल दर्दनाक, थक्को के रूप में दिखाई दे सकते हैं।

पीठ पर दाने होने का क्या संकेत है ?

पीठ पर दाने आपकी वस में ग्रंथियों की सक्रियता को दर्शाता है जिससे सेबम का अधिक उत्पादन होता है यह खराब व्यक्तिगत स्वच्छता का भी संकेत है जो आपकी त्वचा के छिद्रों में मृत त्वचा के साथ-साथ पसीना और जमी हुई मैल जमा कर देता है।

पीठ पर दाने को ठीक कैसे करें

आयुर्वेदिक तरीके

  • तेल जैसे नारियल या जोजोबा तेल में नीम के तेल के साथ मिलाकर लगाने से आपके शरीर बड़े पित्त और कफ दोषों को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है हालांकि जब आपकी पीठ पर मवाद से भरे मुहांसे या सिस्टिक मुंहासे हो तो अभ्यंग के लिए थोड़े से तेल का प्रयोग करें।
  • नीम हल्दी चंदन आज से बने हर्बल बॉडी क्लीनर का इस्तेमाल खासकर आपकी पीठ क्षेत्र में साफ करने के लिए प्रयोग करें।
  • पीठ पर होने वाले दाने मुहासे को ठीक करने के लिए शहद के साथ त्रिफला पाउडर या धनिया पाउडर का प्रयोग मिलाकर दो या तीन बार लगाने पर आपके पीठ पर निकले हुए दाने खत्म हो सकते हैं
  • एलोवेरा, गोटू कोला, आंवला आदि का दिन में दो बार इस्तेमाल करने से आपकी पीठ के दाने खत्म हो सकते हैं।
  • अपने पीठ के मुहासे को ठीक करने के लिए मुल्तानी मिट्टी का पेस्ट अपनी पीठ पर लगाएं यह बहुत ही अच्छा उपचार है मुंहासे को खत्म करने का

पीठ में निकले दाने का घरेलू उपचार

  1. शहद-अपने पीठ पर दाने/ मुहासे पर कच्चा शहर लगाएं और आधे घंटे के बाद से धो लें इसे रोजाना लगभग 1 हफ्ते तक लगाएं इसे आप के पीठ में निकलेगी दाने खत्म हो जाते हैं।
  2. हाइड्रोजन पेरोक्साइड-रुई के टुकड़ा लेकर अपने पीठ के मुहासे पर 3 पर्सेंट हाइड्रोजन पराक्साइड को मुहासे पर लगाएं
  3. लहसुन-45 लहसुन की कलियों का रस निकालकर अपनी पीठ के मुहासे पर लगाएं आधे घंटे के बाद से धो लें।
  4. एप्पल जूस-एक कप गर्म पानी में एक चम्मच एप्पल जूस मिलाकर एक रुई के टुकड़े का उपयोग करके इसे अपनी पीठ पर लगाएं और आधे घंटे बाद से धो लें।

पीठ पर दाने ठीक करने के एलोपैथिक उपचार

  1. यदि आप पीठ पर निकले दाने का एलोपैथिक उपचार करना चाहते हैं तो बेंजोयल पराक्साइड या सेल्सलिक एसिड क्रीम या लोशन को ले सकते हैं इसमें मुंहासे को खत्म करने का गुण होते हैं।
  2. पीठ मैं निकली दाने के लिए आप एंटी-बैक्टीरियल दवा ले सकते हैं अपने किसी डॉक्टर से संपर्क करके।
  3. पीठ पर दाने/ मुहासे को गंभीर रूप से होने पर आपके हार्मोन के स्तर आइसो प्रोटीन को नियंत्रित करने वाली गोलियां ट्रेटीनोइन खा सकते हैं जो आपके पीछे निकलने वाले दाने के कारण को खत्म कर सकता है।

पीठ के दाने कम करने के लिए क्या खाएं

  • पीठ पर निकले दाने को कम करने के लिए सुबह त्रिफला चूर्ण जैसी जड़ी बूटियों से बनी गरम हर्बल चाय पिए।
  • अपने अहार में फल जैसे से अनार पपीता नाश पत्ती अनानास और हरी सब्जी भिंडी, लौकी, गोभी मटर, फूलगोभी, मशरूम आदि जैसे ताजे फल और सब्जियां भरपूर मात्रा में शामिल करें।
  • भोजन में नियमित रूप से इलायची, दालचीनी जीरा, मेथी, लहसुन, धनिया, हल्दी जरूर शामिल करें।

क्या न खाएं

आपके पीठ पर ज्यादा दाने निकल रहे हैं तो आप नीचे दिए गए चीजों का सेवन ना करें

  • पित्त कफ बढ़ाने वाले आहार जिसमें वसा तैलीय अत्यधिक मीठा, नमकीन, खट्टा, गर्म और मसालेदार भोजन हो इनका सेवन ना करें
  • डेयरी उत्पाद पके हुए खाद्य पदार्थ सफेद आटा फास्ट फूड और अन्य सभी प्रकार के जंक फूड से बचें।
  • रोजाना कम से कम आधा घंटा ऐसी शारीरिक गतिविधियां करें जिससे आपके रक्त परिसंचरण को बढ़ावा देने में मदद मिल सके

पीठ पर दाने/ मुहासे रोकने के टिप्स

  • टाइट फिट कपड़े पहनने से बचें जो आपकी त्वचा को सांस लेने योग्य बनाते हैं खासकर बाहरी कसरत के दौरान कार्टन कपड़े पहने।
  • यदि आप वर्कआउट करते हैं और पसीना ज्यादा होता है तो वर्कआउट करने के बाद अच्छी तरह से स्नान करें।
  • कठोर भारी तेल आधारित रसायनी की उत्पादों जैसे क्लींजर बॉडी स्प्रे से दूर है।
  • अपने कपड़ों को ठीक से धोए बिना दोबारा ना पहने।
  • पीठ पर दाने यानी कि मुहासे आमतौर पर किशोरों और वास्को में ज्यादा होता है और किशोरों में महिलाओं को पीठ पर मुहासे होने का खतरा अधिक होता है।

Leave a Reply