शतावरी के फायदे और नुकसान क्या क्या है। Benefits of Shatavari in Hindi

शतावरी के फायदे और नुकसान क्या क्या है। Benefits of Shatavari in Hindi सतावर का इस्तेमाल करने से आपको बहुत सारी समस्याओं से बचाता है सतावर उन लोगो के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद है जिन्हें , अस्थमा, ट्यूमर की परेशानी है।

सतावर चूर्ण digestive system को ठीक करता है और भूख को बढाता है इसके साथ सतावर बच्चो के ग्रोथ के लिए और एलर्जी से बचाने के लिए शतावर एक आयुर्वेदिक कारगर दवा है।

शतावरी-के-फायदे-और-नुकसान-क्या-क्या-है

ये आपके भूख को बढ़ाने के साथ आपकी कमजोरी को दूर करेगा शतावरी के फायदे बहुत है जैसे कि ब्रेस्ट का विकास भूख न लगना , लीवर की समस्या, बवासीर की समस्या व खाए पिए अंग न लगने की समस्याओ को दूर करता है।

आज हम आपको सतावरी के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या क्या है बताने वाले है।

शतावरी के फायदे और नुकसान क्या क्या है।- Benefits of Shatavari in Hindi

तो आईये जानते है सतावरी के फायदे और नुकसान के बारे में ।

शतावरी क्या है – What is Shatavari in Hindi

सतावर का असली नाम शतमूली है यह एक आयुर्वेदिक औषधि है। सतावरी चूर्ण को पतंजलि द्वारा बनाया गया है सतावरी को खाने से शरीर को कई सारे फायदे मिलने लगते है आयुर्वेद के बताये अनुसार सतावरी के 100 फायदे बताये गए है।

शतावरी दो तरह का होता है एक सफ़ेद होता है एक पीले रंग का होता है जो पीले रंग का होता है वो शरीर के कमजोरी को जल्दी दूर करता है शरीर के कमजोरी को जल्दी दूर करता है यह शारीरिक विकास के लिए इतना कारगर दवा है कि इसको खाने से कुछ ही दिन में असर दिखने लगते है।

सतावर में कई पोषण तत्व पाए जाते है जैसे – विटामिन A, B1, B2, C, E, जिंक, फोलिक एसिड, कैल्शियम, कापर, आयरन, पोटेशियम, लिथियम, मैग्निस्यम, कोबाल्ट, सोडियम पाए जाते है जो शरीर के विकास के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है।

शतावरी चूर्ण इन्ग्रिएन्डस – Shatavari Churna Ingredients in Hindi

शरीर का विकाश करने के लिए सतावर चूर्ण में सिर्फ आयुर्वेदिक जडी बुटियों को मिलाया गया है सतावर में मौजूद सभी औषधि के अपने गुर्ण है जो immune system को मजबूत बनाता है।

सतावरी चूर्ण में ingredients आयुर्वेदिक औषधि।

  • गिलोय
  • सतावरी
  • अश्वगंधा
  • सौफ
  • पद्मखा
  • पीपली
  • सुधा गुग्लू
  • कचूर
  • गंध प्रसारिणी
  • सौंठ
  • अजवायन

इस चूर्ण को बनाने के लिए इन्ही आयुर्वेदिक जड़ीबूटियों का मिश्रण किया गया है जो शारीरक विकाश के लिए बेस्ट चूर्ण है।

शतावरी चूर्ण के उपयोग – Uses of Shatavari Powder in Hindi

पतंजलि के बताये अनुसार digestive system को ठीक करने के लिए दिन में दो बार 2 से 4 ग्राम हल्के गर्म दूध के साथ खाना खाने के बाद इसे लेना चाहिए। शतावरी चूर्ण का इस्तेमाल पुरुष / महिला और बच्चे भी कर सकते है।

लगातार इसे खाने से शतावरी के फायदे बहुत से देखने को मिलते है यदि आपके पेट से जुढ़े कोई समस्या है तो इसे हल्के गुनगुने गर्म पानी के साथ लेना पेट के लिए अच्छा होता है | लगातार शतावरी चूर्ण का इस्तेमाल करने इसके फायदे जल्दी देखने को मिलते है।

शतावरी चूर्ण के फायदे – Benefits of Shatavari Churna in Hindi

पतंजलि के कई दवाओं में से एक शतावरी चूर्ण जो बहुत ही जबरदस्त आयुर्वेदिक चूर्ण है यह शरीर के अनेक समस्याओ को ख़त्म करता है। यह लिकोरिया, पेट की समस्या, भूख न लगने और कमजोरी जैसी समस्याओं को दूर करता है। यदि आप बॉडी बनाना चाहते है तो शतावरी का इस्तेमाल करने से आप जल्दी बॉडी बना पायेगे।

जो दुबले पतले है उनका वजन बढ़ ही नहीं रहा है कई तरह के दवाओं का इस्तेमाल कर लिए पर शरीर का वजन बढ़ ही नहीं रहा है और ना ही ठीक से भूख लग रहा है यदि आप वजन बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक दवा का इस्तेमाल करना चाहते है तो ऐसे में आपको सेहत बनाने के लिए सबसे कारगर शतावरी चूर्ण का इतेमाल करना चहिए।

इसके साथ शतावरी के फायदे कमजोरी व महिलायों के ब्रेस्ट की समसयाओ को दूर करता है इसके साथ शतावरी चूर्ण constreate और भूख बढाने के लिए उपयोग किया जाता है। शतावर चूर्ण खासकर महिलाओं को जरुर खाना चाहिए यह महिलायों के कई समस्याओं को दूर करता करता है।

शतावरी चूर्ण के नुकसान – Disadvantages of Shatavari Powder in Hindi

शतावरी चूर्ण का ज्यादा इस्तेमाल करने से अपच की समस्या हो सकती है शतावरी को इस्तेमाल उन लोगो को नहीं करना चाहिए जिनका लो बीपी और डायबिटीज़ के मरीज़ है इसका इस्तेमाल करने से पहले आपको एक बार डॉक्टर से सलाह जरुर लेना चाहिए।

शतावरी का उपयोग ऐसे लोगो को नहीं करना चाहिए जिन्हें हार्ट और किडनी की समस्या है। शतावरी को लेने से पहले आप असली और नकली प्रोडक्ट का चुनाव जरुर करे।

शतावरी चूर्ण का किमत – Shatavari Churna Price in Hindi

शतावरी चूर्ण आपको किसी भी पतंजलि या आयुर्वेदिक शॉप से मिल जाएगा | आप इसको ऑनलाइन भी खरीद सकते है पतंजलि शतावरी चूर्ण का मूल्य 100g का 160 रुपया होता है।

निष्कर्ष –

शतावरी के फायदे और नुकसान क्या क्या है – Benefits of Shatavari in Hindi दोस्तों यह थी शतावरी के फायदे और नुकसान शरीर की कमजोरी और भूख बढ़ाने की सबसे अच्छी आयुर्वेदिक दवा है यदि आप आर्टिकल में बताये अनुसार इसका उपयोग करते है तो आपको physically कभी कोई समस्या नहीं होगा।

लेकिन शतावरी चूर्ण का इस्तेमाल करने से पहले आप एक बार डाक्टर से सलाह जरूर ले।

Leave a Reply