BTC OR D.L.Ed कैसे करें Teacher बनने की पूरी जानकारी ?

BTC or D.L.Ed जो उम्मीदवार Teacher बनना चहते हैं उनको बता दें कि वे टीचर बनने के लिए D.LEd (BTC) कर सकते हैं। जी हां, BTC करने के बाद आप Teacher Ban सकते हैं। अगर आप BTC or D.L.Ed करने की सोच रहें हैं तो आपको D.L.Ed  की पूरी जानकारी होनी चाहिए। और आपके मन में ये सवाल जरुर आता होगा कि D.L.Ed का Scop क्या है या D.L.Ed परीक्षा पास करने बाद आप Teacher कैसे बनते हैं।

btc-dled-kaise+kare

आप ये भी सोचते हैं कि BTC करने के बाद आपको कितनी Salary मिलेगी। तो आज के हमारे इस Artical में हम आपको dled से जुडी सारी जानकारी देंगे। जासे कि आप डी. एल. एड कैसे करें, डी. एल. एड करने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिेए आदि।

BTC or D.L.Ed क्या है तैयारी कैसे करें

BTC or D.L.Ed का Full Form क्या है।

जैसे की आप सभी जानते है की प्राइमरी के बच्चो को बढ़ना आशान नहीं होता है , उने पढ़ाने के लिए बहुत ही मस्कत करनी पड़ती है | इसलिए प्राइमरी के बच्चो को पढ़ाने के लिए government ने एक नई program को लागु में लाया है

BTC – Basic Training Certificate यह एक प्रकार का टीचर training program है | जिसमे प्राइमरी class के बच्चो को पढ़ाने के लिए tanning दी जाती है | BTC के कोर्स में बच्चो को  latest methods से पढ़ाने के तरीको से अवगत करया  जाता है, ता की छोटे बच्चे पढाई में रूचि ले सके और जल्दी सिख सके | इस कोर्स को National Council for Teacher Education (NCTE) के द्वारा संचालित किया जाता है

और DLEd BTC का ही नाम है, जो अभी कुछ समय पहले BTC को Change करके DLEd कर दिया गया है जिसका Full Form Diploma in Alimentary Education है। आइए इसके बारे में पूरी विस्तार से जानते है।

BTC or D.L.Ed कोर्स क्या है ?

आप सभी जानते हैं कि टीचर का काम कितनी जिम्मेदारी का होता है क्योंकि उनको एक बच्चे को पढ़ाना होता है, एक बच्चे को शिक्षा देनी होती है। और एक Primary School के बच्चे को पढ़ाना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए सरकार ने प्राइमरी के बच्चों को पढ़ाने के लिए बहुत कोर्स बनाये है जिनको करने के बाद आप एक प्राइमरी टीचर (Primary Teacher) बन सकते हैं। इन्ही Courso में से एक Course D.L.D. है।

जब आप डी. एल. एड करेंगे तब उसमें आपको बच्चो को पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। आपको सिखाया जाएगा कि बच्चो को कैसे पढ़ाना है ?, बच्चो को पढ़ाने का लेटेस्ट मैथेड (Latest Method) क्या होता है ? आपको बता दें कि DLED, 2 वर्ष का Diploma कोर्स होता है। डी. एल. एड करने के बाद आप एक अध्यापक बन सकते हैं।

आपको बता दें कि यूपी में पहले डी. एल. एड को बीटीसी कहते थे। अब 2017 से बीटीसी को डी. एल. एड(D.L.ED) कहा जाने लगा है। डीएलएड यूपी में प्रति वर्ष बहुत अधिक संख्या में उम्मीदवार डी एल एड परीक्षा देते हैं। डी. एल. एड का फुल फॉर्म है Diploma इन Alimentary Education। आपको ये भी बता दें कि डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन करने के बाद आपको टेट या सीटेट भी पास करना होगा आप तभी सरकारी अध्यापक बन सकते हैं।

BTC or D.L.ED करने के लिए योग्यता ?

जो उम्मीदवार डी. एल. एड करना चाहते हैं उनको बता दें कि डी. एल. एड करने के लिए आपकी शैक्षिक योग्यता डी.एल.एड एक 2 साल का फ़ुल-टाइम Diploma Course है जो 4 Semester में बांटा गया है। जिन्होंने किसी भी क्षेत्र में सफलतापूर्वक (बीए, बीएससी, बीकॉम, बीसीए, बीबीए, बीटेक) पूरा किया है। कला, विज्ञान और वाणिज्य के छात्र भी आवेदन करने के लिए पात्र हैं।

आयु सीमा: आपको बता दें कि पुरुष और महिला दोनों के लिए है आयु सीमा एक ही है।

न्यूनतम आयु: – 18 वर्ष
अधिकतम आयु: – 35 वर्ष

BTC Addmission Process ( प्रवेश प्रक्रिया)

जो उम्मीदवार डी. एल. एड करना चाहते हैं उनको बता दें कि D.L.Ed. में प्रवेश के लिए चयन प्रक्रिया Merit List के आधार पर और Cut Off Marks पर होती है। यानी कि आपके 10 वीं, 12 वीं और स्नातक के प्रतिशत के आधार पर आपको डी. एल. एड करने के लिए College मिलेगा। आपकी Counciling होगी और उसके बाद बाद आपको Collage मिलेगी और 2 वर्ष तक आपकी पढाई चलेगी।

BTC Course Fees –

डी. एल. एड करने के लिए आपको ज्यादा फीस का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। अगर आप डी. एल. एड किसी Goverment Collage से करते है तो आपको डीएलएड Course Fees न्यूनतम 10 हजार रूपये देनी होगी और अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज से करते हैं तो आपको D.L.Ed. course Minimum 41 हजार रूपये के करीब भरनी पड़ सकती है। अलग-अलग कॉलेज के लिए डीएलएड Course अलग भी हो सकती है।

परामर्श प्रक्रिया

योग्य उम्मीदवारों को बीटीसी (BTC) परामर्श के लिए बुलाया जाएगा। Board Counciling का संचालन करेगा और चयन करने वाले उम्मीदवारों को परामर्श पत्र आवंटन पत्रों का Print Out  प्राप्त करने में सक्षम होगा। उम्मीदवारों को Collage में आवंटन पत्र और अन्य निर्धारित Documents के उत्पादन के बाद ही अपनी पसंद के Collage में Addmission कराया जाएगा।

D.L.Ed Course Syllabus-

D.L.Ed में इच्छुक अभियार्थी नीचे दी गयी सारिणी से D.L.Ed पाठ्यक्रम प्राप्त कर सकते हैं जो की लगभग सभी कॉलेज में एक सा ही होता है। जो Syllabus BTC Course में निर्धारित था वही डीएलएड के लिए भी है, Syllabus में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है।

Leave a Reply