Health up Capsule in Hindi-हेल्थ अप कैप्सूल उपयोग, फायदे और नुकसान क्या क्या है ?

Health up Capsule in hindi- हेल्थ अप कैप्सूल एक आयुर्वेदिक उत्पाद है जो कम समय में वजन बढ़ाने में मदद करता है इसमें 16 प्राकृतिक जड़ी बूटियों का संतुलित मिश्रण है और यह पूरी तरह से आयुर्वेदिक है और आयुर्वेदिक होने के कारण इसका कोई ज्ञात दुष्प्रभाव नहीं है शोधकर्ता जड़ी बूटियों के चिकित्सीय लाभों पर शोध करने उन्हें प्रमाणित करने उनके सक्रिय वर्करों को अलग करने और सुरक्षा प्रभाव कारिता को मान्य करने में परसों लगाते हैं विज्ञान पर आधारित हर्बल समाधान ओ के माध्यम से हर घर में कल्याण और आनंद लाना है।

  • दावा का नाम– Health up Capsule
  • कंपोजिशन/सामग्री– आयुर्वेदिक सामग्री (नीचे लिस्ट देख सकते हैं)
  • कंपनी-Clouds M pharmaz pvt Ltd
  • दावा का प्रकार– कैप्सूल (हेल्थ गैन)
  • उपयोग– (वजन, भूख, पाचन को ठीक करने के लिए)

health-up-capsule-in-hindi

यदि आप हेल्थ अप कैप्सूल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको उचित आहार लेने की सलाह दी जाती है जिसमें सभी प्रकार के पोषक तत्व शामिल हो जैसे कि हरी सब्जियां प्रोटीन युक्त भोजन, दूध आदि तथा जंग फूड और धूम्रपान या पीने की आदतों से बचने की सलाह दी जाती हैं।

हेल्थ अप कैप्सूल क्या है (What is Health up Capsule)?

यह एक आयुर्वेदिक प्रोडक्ट है जो आपके पाचन क्रिया, भूख ना लगना जैसी समस्याओं को दूर करता है। और आयुर्वेदिक तरीके से वजन बढ़ाने में मदद करता है। इसे खाने से आपकी पाचन क्रिया सही होगी जिससे भूख लगेगा और वजन बढ़ेगा।

हेल्थ अप कैप्सूल सामग्री (Ingredient of Health up Capsule)

चलिए Health up Capsule की सामग्री क्या क्या है। हेल्थ अप कैप्सूल में क्या क्या मिलाया गया है। इसके बारे में जान लेते हैं।

  1. ट्वाक/दालचीनी (Twak)
  2. मंडूर भस्म (Mandoor Bhasm)
  3. सफेद मूसली (Safed Musli)
  4. भृंगराज (Bhringraj)
  5. गुडुची सातवा (Guduchi Satva)
  6. जातिफल (Jaatifal)
  7. अश्वगंधा (Ashwagandha)
  8. शुद्ध कपिला (Sudh Kapila)
  9. शुद्ध शिलाजीत (Sudh Shilajeet)
  10. विधारा (Vidhara)
  11. त्रिफला (Triphala)
  12. अकर्करा (Akarkara)
  13. प्रवाल पिष्टी (Praval Pisti)
  14. बांग भस्मा (Bang Bhasm)
  15. कौंच बीज (Konch Beej)
  16. बीज कांड (Beej Kand)

1.ट्वाक (दालचीनी)- सीलोन दालचीनी विशेष रूप से श्रीलंका से है जो रक्त शर्करा के स्तर को कम करती है ह्रदय जोखिम कारकों को कम करती है और इसके अन्य प्रभावशाली स्वास्थ्य लाभ है।

2.मंडूर भस्म– मंडूर भस्म एक आयुर्वेदिक कलक्लाइड आयरन फॉर्मूलेशन है जिसका उपयोग मुख्य रूप से एनीमिया और यकृत रोगों के उपचार के लिए किया जाता है।

3.सफेद मूसली– इसे भारत हर्बल वियाग्रा के नाम से भी जाना जाता है जो प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट का एक समृद्ध स्रोत है ऊर्जा उत्पादन को बढ़ाने के लिए यूटिलाइजिंग हार्मोन को स्वाभाविक रूप से उत्तेजित करके जीवन शक्ति को बहाल करने में मदद करती है।

4.अश्वगंधा– दुनिया का सबसे अच्छा अश्वगंधा ksm-66 जो अपूर्ति एंटी ऑक्सीडेंट को बढ़ाता है प्रतिरक्षा प्रणाली को नियंत्रित करता है मांसपेशियों की टोन में सुधार करने में उपयोगी है और एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है।

5.भृंगराज– सफेद फूल वाला ब्रिंगराज पौधा जो लिंगराज की सबसे पसंदीदा किस्म है जो रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है।

6.गुडुची सत्व– आयुर्वेद ने गुडुची सत्व को अमृत सत्व के रूप में लोकप्रिय बनाया है जिसका अर्थ है स्वर्गीय अमृत एक उत्कृष्ट प्रतिरक्षा प्रणाली बूस्टर है और जोड़ों के दर्द में फायदेमंद है।

7.जाति फल– विशेष रूप से अपने मूल स्थान इंडोनेशिया के बांदा दीप से जिसे आमतौर पर जायफल कहा जाता है यह एक पाचक सुधावर्धक सुगंधित और कसैला है।

8.शुद्ध कुपीलू– यह आंतों की गतिशीलता के साथ-साथ जठरांत्र संबंधी कार्यों को बढ़ाकर बुक में सुधार करने में मदद करता है और कब्ज को रोकने में भी मदद करता है।

9.शुद्ध शिलाजीत– हिमालय की भूमि में डाल शिलाजीत हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करता है और याददाश्त बढ़ाने में मदद करता है

10.त्रिफला– द भारतीय आंवला जो पाचन तंत्र के लिए एक अत्यधिक प्रभावी क्लीनर है जो पेट में फंसे अपशिष्ट उत्पादों और जहरीले यौगिकों को धीरे से साफ करता है

11.विधारा– विधारा जड़ को हाथी लता के रूप में भी जाना जाता है एक सुंदर कम करने वाला कसैले और विचारक के रूप में काम करता है इसमें प्रभावी पाचन गुण होते हैं

12.अकरकरा– इसका उपयोग आमतौर पर इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण के कारण गठिया से संबंधित दर्द और सूजन को प्रभावित करने के लिए किया जाता है

13.प्रवाल पिष्टी– गुलाब जल के साथ संस्कृत कैल्शियम पाउडर को प्रवाल पिष्टी के रूप में जाना जाता है यह मानव प्रतिरक्षा में सुधार करता है और स्वस्थ हड्डियों के विकास और रखरखाव के लिए प्राकृतिक कैल्शियम और विटामिन डी प्रदान करता है

14.बंग भस्म– बंग भस्म एक धातु है जिसका उपयोग अपने शुद्ध रूप में एक प्रभावी आयुर्वेदिक उपचार की तैयारी के लिए किया जाता है शरीर को बढ़ाने में उपयोगी है

15.कौंच बीज– कौंच बीज का या कोहगे को व्यापक रूप से द मैजिक वेलवेट भी जाना जाता है यह एक पौधा है और प्रोटीन का स्रोत है

16.बीज कांड– इसका अर्थ नसों और मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है।

हेल्थ अप कैप्सूल के फायदे (Benifits of Health up Capsule)

  • ये कैप्सूल क्रमिक तरीके से पाचन तंत्र के कार्य को विनियमित करने में मदद करते हैं
  • इसमें मौजूद कार्बनिक जड़ी बूटियां माइलेज लाइपेज जैसे पाचन एंजाइमों को उत्तेजित करने में उत्प्रेरक की भूमिका निभाती है जो पाचन प्रक्रिया को नियंत्रित करता है
  • यह हमारे शरीर में कोशिकाओं के उत्पादन को उत्तेजित कर के अधिकांश संक्रमण के जोखिम को कम करता है और इस प्रकार हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है
  • यह अधिकृत एंजाइमों पर कार्य करता है और इस प्रकार उचित पाचन में मदद करता है जो एक साथ भूख को बढ़ाता है
  • इन कैप्सूल ओं के अलावा स्वस्थ उचित आहार लेने की सलाह दी जाती है जिसमें प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट शामिल हो

हेल्थ अप कैप्सूल काम कैसे करता है (How to Work Health up Capsule)?

हेल्थ अब कैप्सूल में जड़ी बूटियां होती है जो हमारे शरीर में चायापचा के उचित कामकाज को बनाए रखें के लिए सकरात्मक रुप से काम करती हैं। यह भूख बढ़ाकर भोजन बढ़ाने में मदद करता है यह सबसे अच्छा आयुर्वेदिक वजन बढ़ाने वाला समाधान में से एक है और पूरी तरह से दुष्प्रभाव और प्रतिकूलताओ से मुक्त है।

हेल्थ अप कैप्सूल इस्तेमाल क्यों करते है (Why Use health up Capsule) ?

Health up Capsule का उपयोग पाचन क्रिया दुरुस करने और भूख बढ़ाने मैं मदद करती है जिससे वजन बढ़ता है। यह 100% आयुर्वेदिक है जिनका कोई ज्ञान दुष्प्रभाव नहीं है।

हेल्थ अप कैप्सूल का इस्तेमाल कैसे करते हैं ?

Health up Capsule का इस्तेमाल भोजन के बाद प्रतिदिन दो कैप्सूल लेने का निर्देश दिया गया है वयस्कों के लिए 1 दिन में 2 कैप्सूल लेने की सलाह दी जाती है।12 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों के लिए 1 दिन में एक कैप्सूल लेने की सलाह दी जाती है।

हेल्थ अप कैप्सूल के दुष्प्रभाव (Side Effects of health up Capsule)

जैसा कि हमने ऊपर ही बताया है यह 16 प्राकृतिक जड़ी बूटियों का संतुलित मिश्रण है और पूरी तरह से आयुर्वेदिक होने के कारण इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है यदि आपको इस कैप्सूल के लेने से कोई दुष्प्रभाव दिखता है तो इसका सेवन तुरंत बंद कर दें।

हेल्थ अप कैप्सूल संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

हेल्थ अप कैप्सूल कैसे खाएं ?

हेल्थ अप कैप्सूल सुबह शाम खाने के बाद ले सकते हैं। दूध के साथ लेते हैं तो और अच्छा रहेगा। 12 से 18 साल के लोगों को दिन में एक ही कैप्सूल खाना चाहिए।

हेल्थ अप कैप्सूल लेने का सबसे अच्छा समय क्या है ?

हेल्थ अप कैप्सूल सबसे अच्छा समय है सुबह खाने के बाद और शाम को खाने के बाद लेना

यदि हैल्थ अप कैप्सूल खुराक भूल जाए तो क्या करें

यदि आप हेल्थ अप कैप्सूल कि खुराक भूल गए हैं तो अगले समय इसका खुराक ले सकते है।

क्या हेल्थ अप कैप्सूल आदत बन सकती है ?

नहीं हेल्थ अप कैप्सूल आदत बनाने वाली नहीं है क्योंकि यह प्राकृतिक संसाधनों से बने होते हैं और इनमें एस्टराइड या कोई आदत बनाने वाली सामग्री नहीं होती है।

मैं हेल्थ अप कैप्सूल को दूध के साथ ले सकता हूं

हां इसे दूध के साथ लिया जा सकता है।

हेल्थ अप कैप्सूल का कोई दुष्प्रभाव होते हैं

हेल्थ अप कैप्सूल विशुद्ध रूप से आयुर्वेदिक उत्पाद है जिसका अभी तक कोई दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है।

हेल्थ अप कैसे उनका उद्देश्य क्या है

यह कैप्सूल शरीर के वजन को बढ़ाने की साथ-साथ भोग बढ़ाने के लिए किया जाता है यह 16 प्राकृतिक जड़ी बूटियों से मिलकर बना है जो हमारे शरीर के पाचन क्रिया को उत्तेजित करती है यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए भी जाना जाता है।

हेल्थ अप कैप्सूल से कितने समय में वजन बढ़ जाएगा

जैसा कि विशेषज्ञों द्वारा कहा जाता है कि वजन बढ़ाने का समय हर व्यक्ति के लिए अलग-अलग होता है हेल्थ अप कैप्सूल संतुलित तरीके से वजन बढ़ाने में मदद करता है

हेल्थ आपका शुल्क कब तक लेना चाहिए

आदर्श रुप से तीन महीने के लिए प्रतिदिन दो कैप्सूल लेने की सिफारिश की जाती है क्योंकि मानव शरीर को प्रभावी परिणाम प्राप्त करने के लिए आयुर्वेदिक तैयारी को अपनाने में समय लगता है क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति में अलग-अलग अनुकूली क्षमताएं होती हैं।

हेल्थ अप कैप्सूल के सुरक्षा संबंधी सलाह

  • बच्चों की बहुत से दूर रखें।
  • ठंडे सोफे स्थान में रखें
  • उपयोग करने से पहले लेवल पढ़ें
  • हेल्थ अप कैप्सूल के लिए निर्देशित खुराक से अधिक ना ले।
  • गर्भवती महिलाओं या स्तनपान करने वाली महिलाओं न खाएं
  • दिल से संबंधित बीमारियों से पीड़ित से ना ले
  • जीवन रक्षक दावा का सेवन करने वाले लोगों के लिए इसे नहीं लेना चाहिए।

हेल्थ आप कैप्सूल कैसे और कहां से खरीदें

Health up Capsule को आप अपने नजदीकी केमिस्ट या आयुर्वेदिक दुकानों से ले सकते हैं यह ऑफलाइन लगभग सभी प्रमुख मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध है।

Health up Capsule ऑनलाइन अमेजॉन, फ्लिपकार्ट जैसे ई-कॉमर्स साइट पर भी उपलब्ध है इसे आप ऑनलाइन मंगवा सकते हैं यह हमारे नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके इसे ऑर्डर कर सकते हैं।

BUY Health Up Capsule

चेतावनीकिसी भी तरह की दवा का सेवन करने से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लें। Mybestindia द्वारा दवा के बारे में बताई गई जानकारी उपभोक्ता को शिक्षित करने के लिए है। इस वेबसाइट का यह मतलब नहीं है कि किसी भी दवा को अपने ही द्वारा उपयोग। किसी भी प्रकार की दवा को लेने से पहले कृपया चिकित्सक का परामर्श जरूरी है।

Leave a Reply