NAUSEA & VOMITING- जी घबराना व उल्टी आने के कारण, लक्षण और इलाज क्या है?

जी घबराना व उल्टी आना (Nausea and Vomiting) यानी की Infection या other causes की वजह से gastrointestinal contains का orally बाहर आना। Indigestion में जब food Stomach में Digest नहीं होता है तब उल्टी से बाहर आता है। ऐसा Diarrhoea वाली condition में भी होता है। तू स्वास्थ्य की आज की महत्वपूर्ण जानकारी में हम जी घबराना व उल्टी आना के बारे में पूरी जानकारी जानने वाले हैं यह किस कारण से होता है इसके साइन ए वर्सेस सिम्टम्स क्या है सब जानेंगे।

जी घबराना व उल्टी आना

जी घबराना व उल्टी होने के कारण (CAUSES)

Nausea (जी घबराना) and Vomiting (उल्टी/वमन) कई कारणों से होती है।

  • ज्यादातर Nausea and Vomiting indigestion (अपाचन) की वजह से होती है।
  • Motion sickness जैसे Travelling के दौरान उल्टी आना व जी घबराना।
  • Morning sickness (Pregnant Ladies को सुबह के समय जी बराकर उल्टी होती है)।
  • कई बार कुछ दवाओं की वजह से भी Nausea and Vomiting होती है।

इसके अलावा कुछ कारण इस प्रकार है।

  • Infection (संक्रमण)
  • Viral Gastroenteritis, Gastric retention, Acute gastritis
  • Intestinal obstruction (आँतों में रूकावट)
  • Food poisoning (विषाक्त भोजन)
  • Head injury (सिर की चोट)
  • Viral hepatitis (पिलीया)

जी घबराना व उल्टी के संकेत और लक्षण (SIGNS & SYMPTOMS)

  • Abdominal pain (पेट में दर्द)
  • Fever (बुखार)
  • Light headache (सिर दर्द)
  • Vertigo (चक्कर आना)
  • Rapid pulse rate (तेज नाड़ी दर)
  • Dry mouth, Dehydration (मुंह सूखना, पानी की कमी)
  • Chest pain (सिने में दर्द)
  • Excessive sleepiness (अत्यधिक नींद आना)

जी घबराना व उल्टी होने पर इलाज (TREATMENT)

Nausea and Vomiting के अनेक कारण होते है और उसी आधार पर इसका उपचार किया जाता है।
Indigestion से होने वाली Nausea and Vomiting में दिया जाने वाला पहले समझना यह है कि उल्टी किस वजह से हो रही है यह पता होने पर उसी प्रकार से दवा को चला जाता है उल्टी रोकने वाली दवाइयां बहुत है उसके साथ में आपको गैस की भी दवाइयां दी जाती हैं।

अधिक समय से होने पर इंजेक्शन भी लगाया जाता है और यदि और अधिक समस्या हो गई है तू इन्फ्यूजन बोतल भी मरीज को लगाया जाता है इसमें उल्टी रोकने का इंजेक्शन गैस का इंजेक्शन इत्यादि इलाज किया जाता है। जरूरत के हिसाब से ज्यादा उल्टी होने पर दीये जा सकते है। अधिक उल्टी होने पर शरीर में बॉलीवुड की कमी हो जाती है और जरूरत पड़ने पर Dextrose Normal saline and Dextrose 5% की Drip लगाई जानी चाहिये।

गर्भावस्था यानी की प्रेगनेंसी में उल्टी होना आम बात है लेकिन यदि ज्यादा समस्या हो रही है तू डॉक्टर को अवश्य दिखाएं बिना डॉक्टर को दिखाएं कोई भी दवा ना खाएं।

अचानक उल्टी होने के कारण क्या है?

ज्यादातर Nausea and Vomiting indigestion (अपाचन) की वजह से होती है, Motion sickness जैसे Travelling के दौरान उल्टी आना व जी घबराना, Morning sickness (Pregnant Ladies को सुबह के समय जी बराकर उल्टी होती है), कई बार कुछ दवाओं की वजह से भी Nausea and Vomiting होती है। इसके अलावा Infection (संक्रमण), Viral Gastroenteritis, Gastric retention, Acute gastritisIntestinal obstruction (आँतों में रूकावट), Food poisoning (विषाक्त भोजन), Head injury (सिर की चोट), Viral hepatitis (पिलीया)

उल्टी होने के बाद क्या करें?

उल्टी होने पर शरीर में ब्लड की कमी हो जाती है। उसके बाद आपको ज्यादा से ज्यादा फ्लूट लेने की कोशिश करना है घर पर आप नींबू का रस नमक चीनी का घोल बनाकर पी सकते हैं। जिससे शरीर में पानी की कमी दूर हो जाए।

बुखार में उल्टी होने का कारण?

कुछ बुखार में उल्टियां भी होती हैं जैसे टाइफाइड, यदि बुखार में उल्टी होती है तो आपको ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ का सेवन करना है इसके साथ में आप फलों का जूस भी पी सकते हैं।

खाने के बाद उल्टी जैसा लगना

यदि आपको खाने के कुछ देर बाद उल्टी लगने जैसा महसूस होता है तो इसका एसिडिटी एक कारण हो सकता है। इसके लिए आपको गैस की दवा और पाचन संबंधी सिरप या टेबलेट ले सकते हैं।

Share on:

About Writer

Leave a Comment