प्राइवेट और गवर्नमेंट कॉलेज में अंतर क्या है ?

दोस्तों प्राइवेट और गवर्नमेंट कॉलेज किसी संस्था के द्वारा ही होते हैं। फर्क सिर्फ इतना होता है जो गवर्नमेंट कॉलेज होते हैं उसका जो फंडिंग है वह गवर्नमेंट करती है। और जो प्राइवेट कॉलेज है उसकी फंडिंग कोई प्राइवेट संस्था, सोसायटी या ट्रस्ट करती है।

प्राइवेट-और-गवर्नमेंट-कॉलेज-में-अंतर

प्राइवेट और गवर्नमेंट कॉलेज में क्या क्या अंतर है

कॉलेज फीस– गवर्नमेंट कॉलेज की फीस प्राइवेट कॉलेज की फीस से बहुत ज्यादा कम होती है क्योंकि यह गवर्नमेंट कॉलेज गवर्नमेंट के अंदर होता है चाहे वह सेंट्रल गवर्नमेंट हो या स्टेट गवर्नमेंट हो क्योंकि यह रिजर्वेशन कोटा होता है। और प्राइवेट कॉलेज की बात करें तो इसमें बहुत ज्यादा फीस होती है।

प्लेसमेंट- अब बात करते हैं प्लेसमेंट की मैं आपको बता दूं आज से 7 या 8 साल पहले प्राइवेट कॉलेज को बहुत मेहनत करना पड़ता था किसी कंपनी में प्लेसमेंट कराने के लिए क्योंकि कैंपस सिलेक्शन उतना नहीं होता था उस टाइम जो सिर्फ टॉप कॉलेज जाती थी ज्यादातर इनमें ही कैंपस सिलेक्शन होता था लेकिन अब ऐसा नहीं है अब बहुत सारे कंपनी वह करती है प्राइवेट कॉलेज की तरफ क्योंकि उनका एडमिशन का जो रैंक है सिलेक्शन बहुत ज्यादा होता है जो बच्चे 70 से 80 पर सेंट ले आते हैं उनका एडमिशन नहीं होता तो सीधा प्राइवेट कॉलेजों से भी सिलेक्शन ले लेते हैं काफी कॉलेज में बहुत अच्छे प्लेसमेंट होती है। आपको उसमें काम भी ज्यादा करना पड़ता है।

इंफ्रास्ट्रक्चर- अगर जो स्टूडेंट कभी कॉलेज नहीं गया है उन्हें बता दू जैसा आप स्कूल में पढ़ते हैं वैसे ही कॉलेज होता है। इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में गवर्नमेंट कॉलेज इतने अच्छे नहीं होते हैं। लेकिन बड़े-बड़े शहरों में जैसे दिल्ली मैं गवर्नमेंट कॉलेज की इंफ्रास्ट्रक्चर अच्छी है। लेकिन इंडिया प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो वहां पर आपको अच्छी फैसिलिटी मिलती है। तो इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में प्राइवेट कॉलेज गवर्नमेंट कॉलेज से अच्छे होते हैं। क्योंकि प्राइवेट कॉलेज में इतनी ज्यादा पैसे लेते हैं तो आपको अच्छी से अच्छी फैसिलिटी मिलनी चाहिए।

प्रोफेसर- गवर्नमेंट कॉलेज हाईली क्वालीफाई प्रोफेसर होते हैं। इनके पास पोस्ट ग्रैजुएट डिग्री होती है। जिस विषय के लिए आप को पढ़ाते हैं। और गवर्नमेंट कॉलेज में टीचर्स प्रोफेसर को पढ़ाने के लिए एक न्यूनतम डिग्री सरकार द्वारा प्रोफेसर पढ़ा सकते हैं। वहीं अगर बात करें प्राइवेट कॉलेज की तो यहां पर आपको टीचर कम क्वालीफाई हो सकते हैं।

इस जानकारी में बस इतना ही आगे हम इस जानकारी को अपडेट करके आपको बताते रहेंगे प्राइवेट और गवर्नमेंट कॉलेज में अंतर क्या है यदि आपको कुछ पूछना है तो नीचे कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं।

Leave a Reply