SGOT Blood Test in Hindi एसजीओटी टेस्ट क्या है कैसे, कब और क्यों किया जाता है?

हेलो आज की जानकारी में हम बात करेंगे SGOT Blood Test के बारे में एसजीओटी क्या है इस टेस्ट को क्यों किया जाता है और कैसे किया जाता है और उसके बारे में सभी जानकारी को जानेंगे।

SGOT-blood-Test

एसजीओटी टेस्ट क्या होता है। What is SGOT Test in hindi

यह एक प्रकार का रक्त जांच है जो Liver Function Test के अंतर्गत किया जाता है। SGOT Blood Test की सहायता से हम एंजाइम की ब्लड में कितनी मात्रा है यह जान सकते हैं। जिसके ज्यादा और कम हों जाने पर बीमारियों का पता लगाया जा सकता है।

एसजीओटी टेस्ट को ALT SGOT Test भी कहा जाता है। इस टेस्ट से रक्त में GOT की मात्रा कितनी है पता लगाया जाता है।

एसजीओटी क्या है What is SGOT in hindi

एसजीओटी (Serum Glutamic-Oxaloacetic Transaminase Test) एक लीवर एंजाइम है जो मनुष्य के लिवर में पाया जाता है।

SGOT blood Test कैसे किया जाता है।

एसजीपीटी टेस्ट करने के लिए मरीज के बाजू से रक्त नमूना लिया जाता है। ब्लड सैंपल पैथोलॉजिस्ट लैब टेक्नीशियन के द्वारा से सैंपल को लेकर लैब में आधुनिक मशीनों द्वारा परीक्षण किया जाता है।

SGOT Test कब और क्यों किया जाता है?

कुछ लोगों के मन में सवाल होता है कि यह टेस्ट क्यों किया जाता है। डॉक्टर एसजीओटी टेस्ट कब कराने के लिए बोलते हैं। तो चलिए जान लेते हैं।

  • यदि आपने लिवर संबंधित किसी प्रकार की बीमारियों से जूझ रहे हैं और उपचार चल रहा है तो आपको कई बार यह टेस्ट कराना पड़ सकता है।
  • यदि आपको ह्रदय संबंधी कोई बीमारी है तो डॉक्टर आपको यह टेस्ट कराने के लिए बोल सकते हैं।
  • लीवर की किसी बीमारी होने पर यह टेस्ट किया जा सकता है।
  • यदि आपके ब्लड में ट्राइग्लिसराइड बढ़ गया है।
  • शुगर, या एनीमिया है तो यह टेस्ट कराया जाता है।
  • यदि आप ज्यादा अल्कोहल का सेवन करते हैं तब भी टेस्ट कराया जाता है।
  • यदि आपको गालब्लेडर संबंधित कोई बीमारी है तब भी यह टेस्ट किया जाता है।

क्या इस टेस्ट से पहले कोई खास सावधानी की जरूरत होती है?

नहीं आमतौर SGOT Blood Test को करने से पहले किसी खास सावधानी की जरूरत नहीं होती है रक्त नमूना कभी भी लिया जा सकता है। लेकिन कुछ बातों को ध्यान देना जरूरी है। जैसे

  • यह टेस्ट कराने से पहले यदि आप कोई दवा खा रहे हैं तो डॉक्टर को जरूर बताना चाहिए
  • और यदि आपको किसी भी तरह की बीमारी है तो उसके बारे में भी डॉक्टर को अवश्य बताएं।

एसजीओटी सामान्य स्तर क्या है SGOT Normal Level?

एसजीओटी की सामान्य स्तर 5-40 U/L होता है लेकिन यह वैल्यू अलग-अलग लैबोरेट्री के मुताबिक थोड़े बहुत ऊपर नीचे हो सकते हैं।

  • SGOT Normal Level– 5 to 40 U/L

रक्त में एसजीओटी स्तर बड़ने के लक्षण और कारण क्या हो सकते है?

SGOT Leval ज्यादा होना– आमतौर पर लीवर की बीमारियों में एसजीओटी का स्तर बढ़ जाता है जैसे-

  • Chronic Hepatitis
  • Liver damage from alcohol
  • Cholesterol
  • Heart, kidney, bone and muscle damage
  • Liver cancer
  • Liver scaring
  • Liver Cirrhosis

एसजीओटी बहुत से अन्य बीमारियों में भी पाया जाता है जैसे ह्रदय, किडनी व ब्रेन के रोगियों में भी यह एंजाइम बढ़ सकता है।

Blood में SGOT Leval कम होने के लक्षण और कारण क्या हो सकते है?

SGOT leval कम होना– कुछ बीमारियां एसजीओटी स्तर कम हो जाता है जैसे-

  • Chronic renal dialysis
  • Acute renal disease
  • Vitamin b6 deficiency
  • Beriberi
  • Pregnancy
  • Cancer
  • Genetic Condition
  • Cirrhosis

यदि आपको ऊपर बताए गए कुछ समस्या है तो आप के ब्लड में एसजीओटी लेवल कम हो सकता है।

क्या दवाइयां लेने से भी एसजीओटी स्तर बढता है?

हा, कुछ दवाइयों से भी एसजीओटी लेवल बढ़ सकता है जैसे Steroids, non-steroid, anti-inflammatory, Inflammatory दवाइयां जैसे Asprin, Cholesterol घटाने वाली दवाइयां से भी एसजीओटी बढ़ा सकते हैं।

एसजीओटी टेस्ट की कीमत (SGOT Blood Test Price)

SGOT Blood Test की कीमत की बात करें तो यह टेस्ट ₹60 से लेकर ₹120 मैं हो जाता है।

क्या एकमात्र एसजीओटी ब्लड टेस्ट से लीवर की बीमारियों का पता चल सकता है?

नहीं आमतौर पर इस टेस्ट के साथ और भी बहुत से टेस्ट किए जाते हैं उसके बाद ही लीवर की बीमारी कन्फर्म की जाती है।

एसजीओटी के साथ किए जाने वाले अन्य टेस्ट (SGOT Related Other Test)

डॉक्टर SGOT Blood Test के साथ कुछ ऐसे टेस्ट है जिन्हें करवा सकते हैं। जिसेसे Liver में होने वाली बीमारियों का पता लगाया जा सकता है।

  • Total Proteine
  • Albumin
  • Alkaline Phosphates
  • Gamma GT (GGT)
  • Bilirubin test
  • Glucose test
  • Platelet count

Leave a Reply