X-ray Test क्या है कब और कैसे किया जाता है

आज की इस जानकारी में हम बात करने वाले हैं X-ray Test के बारे में एक्सरे टेस्ट क्या है। एक्सरे टेस्ट कब और क्यों किया जाता है इससे जुड़ी सावधानियां एक्सरे करवाने से पहले हमें क्या करना चाहिए सब जानेंगे।
X-ray Test को यदि आप किसी पतली से गिलास से पार करवाते हैं, तो यह पार हो जाते हैं।लेकिन यदि आप किसी मेटल को रखकर पार करते हैं तो वह पार नहीं कर पाएगी।
X-ray Test-कब-और-क्यों-किया-जाता-है
शरीर के किसी भी हड्डी में कोई भी मुंडा इमेज होती है तो इसका चित्र में X-ray Test के द्वारा मिल जाता है हड्डियों में कैल्शियम का सही और सटीक रिपोर्ट में 1 सीट के द्वारा मिल जाती है।
यदि आपके शरीर में कोई छोटा या बड़ा पिक्चर है तो इसकी भी जानकारी एक से रिपोर्ट से मिल जाती है।

एक्स-रे क्या है (What is X-ray)

एक्स-रे इलेक्ट्रो मैग्नेटिक किरण होता है इसके पास पेनिट्रेशन की बहुत क्षमता होती है। इसके हम बिना किसी कंप्रेशन के अंदर के पिक्चर को आसानी से देख सकते हैं। और इस टेस्ट में आपको कोई भी दर्द महसूस नहीं होता है इससे आप शरीर के अंदर कोई भी गतिविधि को आसानी से पता लगा सकते है।

एक्स-रे का आविष्कार कब हुआ

एक्स-रे का आविष्कार रॉन्टजेन ने 8 नवंबर 18 से 95 ईसवी में हुआ था।

एक्स-रे टेस्ट क्या है (What is X-ray Test)

X-ray test एक बहुत ही महत्वपूर्ण डायग्नोस है जिससे हमारे शरीर के इंटरनल पार्ट को देखा जाता है।

एक्स-रे टेस्ट क्यों किया जाता है

एक्स-रे का उपयोग टूटी हड्डियों को पता लगाने के लिए फेफड़ों की बीमारियों जैसे फेफड़ों के कैंसर, पथरी, टीवी, प्नूमोनिया आदि को पता लगाने के लिए एक्सरे किया जाता है।

एक्स-रे टेस्ट करवाने से पहले जरूरी बातें

X-ray Test करवाने से पहले हमें कौन-कौन सी बातों को ध्यान में रखना चाहिए एक्सरे करवाने से पहले हमें कोई खास तैयारी करने की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन एक या 2 घंटे पहले डॉक्टर आपको कुछ ना खाने के लिए बोल सकते हैं और आपके शरीर में कोई मेटल या धातु है तो उसे निकालने के लिए डॉक्टर आपको बोल सकते हैं।

X-ray रिपोर्ट में बेरियम और आयोडिन का उपयोग किया जाता है। किसका प्रयोग करने से जो रिपोर्ट आती है वह बहुत ही क्लियर आती है।

एक्स-रे टेस्ट करवाने में कितना पैसा लगता है।

एक्स-रे टेस्ट करवाने में ₹100 लेकर ₹700 तक लग सकता है अलग-अलग लोगों पर इसकी कीमत अलग-अलग होती है।इसमें यह भी निर्भर करता है आप किस पार्ट का एक्सरे करवा रहे हैं जिस पार्ट का हक से करवा रहे हैं उसका खर्चा उसी आधार पर आधारित होता है।

एक्स-रे से सावधानियां

X-ray Test करवाने से कुछ हानिया भी होती हैं यदि आप लगातार ज्यादा एक्स-रे़ करवाते हैं तो आपको किरणों से आपके बॉडी में समस्याएं पैदा हो सकते हैं।

  • X-ray Test जरूरी हो तभी करें
  • महिलाओं को एक्स-रे बहुत कम करवाना चाहिए
  • यदि कोई महिला प्रेग्नेंट है उसे एक्सरे बिल्कुल ही करवाना चाहिए एक्सरे किरणों के संपर्क में आने से बच्चे को समस्या हो सकते हैं।
  • एक्स-रे टेस्ट करने के लिए बेरियम और आयोडीन का उपयोग किया जाता है जिससे कार्डियक अरेस्ट भी हो सकता है।

एक्स-रे महत्वपूर्ण जानकारी

  • X-ray Test का तरंग धैर्य 10 पिको मीटर से लेकर 10 नैनोमीटर तक होता है एक्स-रे की किरणों के दूसरा नाम रॉन्टजेन किरणें है।
  • जर्मन भौतिक शास्त्री रॉन्टजेन ने 8 नवंबर उन 1895 ईस्वी में एक्स-रे की किरणों की खोज की थी।
  • विलियम रॉन्टजेन को खोज के लिए उन्हें भौतिक का पहला नोबेल पुरस्कार दिया।
  • रॉन्टजन ने पहला एक्सरे का फोटो अपनी पत्नी के हाथ का लिया था 22 दिसंबर 18 से 95 ईस में यह मानव शरीर के हड्डियों की पहली तस्वीर थी “जब उनकी पत्नी अपनी एक्स-रे की फोटो को देखा तो उन्होंने कहा मैंने अपनी मौत देखी है”
  • महिलाओं को एक्सरे सीटी स्कैन ज्यादा नहीं करना चाहिए इससे बचना चाहिए जब बहुत जरूरी हो तभी करें।
  • X-ray Test की Frequency 30Tz से लेकर 30Hz होती है।

Leave a Reply